Prarambhik Shiksha Ke Moolbhoot Tattva / प्रारम्भिक शिक्षा के मूलभूत तत्त्व
Author
: Dr. Praveen Chandra Srivastava
Language
: Hindi
Book Type
: Text Book
Publication Year
: 2006
ISBN
: 8171245064
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: xx + 172 Pages, Biblio., Size : Demy i.e. 22.5 x 14.5 Cm.

MRP ₹ 200

Discount 20%

Offer Price ₹ 160

यह पुस्तक प्राथमिक शिक्षा पर एक गहन दस्तावेज है। लेखक ने अपने अध्यापन जीवन के दौरान किये गये प्रयोगों को अत्यन्त रोचक एवं सहज शैली में प्रस्तुत किया है। प्राथमिक शिक्षा के क्षेत्र में एक ऐसे साहित्य की कमी महसूस की जा रही थी जिसमें प्राथमिक शिक्षा से सम्बन्धित आधुनिक संकल्पनाएँ, अभिनव प्रयोग तथा अद्यतन आँकड़े एक ही ग्रन्थ में उपलब्ध हों। इस पुस्तक के प्रकाशन में मुख्य रूप से यही दृष्टि है। प्राथमिक शिक्षा समस्त शिक्षा-व्यवस्था की आधारशिला है। आज शिक्षा अपने सामाजिक दायित्वों की पूॢत करने में पूर्णतया असफल है। आज हम उस पूर्णता को प्राप्त नहीं कर पाये हैं जिसकी अपेक्षा शिक्षा-व्यवस्था से की जा रही है। अधिकांश व्यक्ति शिक्षा के वास्तविक अर्थ को समझने में असमर्थ हैं। सम्पूर्ण मानव समाज आजअपने को असुरक्षित महसूस कर रहा है। यदि कहीं से कोई आशा की जा सकती है तो वह बच्चों से ही की जा सकती है। वे ही इस देश के भविष्य हैं। यदि सचमुच एक नये संसार की रचना करनी है तो शिक्षा का उद्देश्य होना चाहिए प्रस्फुटन और बच्चोंं में छिपी प्रतिभाओं का विकास। बच्चों में एक ऐसी अज्ञात प्रतिभा होती है जो देश को सुखमय एवं सुरक्षित भविष्य की ओर ले जा सकती है। प्रस्तुत पुस्तक में प्राथमिक शिक्षा से सम्बन्धित समस्त परियोजनाओं, महत्त्वपूर्ण आँकड़ों आदि को सुव्यवस्थित रूप में प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया है। प्राथमिक शिक्षा के सन्दर्भ में इस पुस्तक में अद्यतन जानकारी उपलब्ध करायी गई है।