Samagra Upanyas (Collected Novels of Kamleshwar) / समग्र उपन्यास (कमलेश्वर के दस सम्पूर्ण उपन्यास)
Author
: Kamaleshwar
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Publication Year
: 2011
ISBN
: 9788170285083
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: 712 Pages, Size : Demy i.e. 22.5 x 14.5 Cm.

MRP ₹ 550

Discount 15%

Offer Price ₹ 468

प्रख्यात कथाकार तथा मीडियामैन कमलेश्ïवर ने ज़मीन और जि़न्दगी से सीधे जुड़े स्त्री-पुरुषों के जीवन का चित्रण करने और उनकी छोटी-बड़ी आशा आकांक्षाओं, संघर्षों इत्यादि को व्यक्ïत करने में विशेष कमाल हासिल किया है। इसी कारण कहानियों के अलावा बिलकुल पहले उपन्यास से ही उन्होंने साहित्य जगत में अपनी विशिष्टïता कायम कर ले और एक के बाद दूसरी छोटी परन्तु महत्त्वपूर्ण रचना देकर अग्रणी उपन्यासकारों में अपना स्थान सुनिश्ïिचति कर लिया। उनके यथार्थपरक लेखन ने रचनात्मकता के साथ-साथ जीवन तथा इतिहास के चिन्तन के नये द्वार भी खोल दिए हैं—'कितने पाकिस्तानÓ जिसका विलक्षण उदाहरण है। कहानियों के साथ कमलेश्ïवर के समग्र उपन्यासों का भी विशिष्टï ऐतिहासिक महत्त्व है, जिनका अध्ययन किया जाता रहेगा। प्रस्तुत संकलन में कालक्रमानुसार उनके दस उपन्यास प्रस्तुत किए गए हैं—एक सड़क सत्तावन गलियां, लौटे हुए मुसाफिर, तीसरा आदमी, डाक बंगला, समुद्र में खोया हुआ आदमी, काली आंधी, आगामी अतीत, वही बात, सुबह....दोपहर....शाम...., रेगिस्तान। इस सबके लिए उन्होंने नयी भूमिकाएँ भी लिखी हैं।