Gaje Baje Ke Saath Wapasi (Satire-Humourous Stories) / गाजे बाजे के साथ वापसी (व्यंग्य-संग्रह)
Author
: Puskar Dwivedi
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Publication Year
: 2006
ISBN
: 8171245323
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: xiii +100 Pages, Size : Demy i.e. 21.5 x 14 Cm.

MRP ₹ 90

Discount 15%

Offer Price ₹ 77

'गाजे-बाजे के साथ वापसीÓ व्यंग्य-संग्रह लेखक की इस विधा का तीसरा पड़ाव है। व्यंग्य लेखन जिस तेजी के साथ हो रहा या होता है, उसका कारण है हमारे आस-पास की सामाजिक, सांस्कृतिक तथा राजनीतिक विसंगतियाँ। चाहे व्यक्तिगत स्तर पर हो, चाहे सामाजिक और चाहे राजनीति से प्रभावित हो, सर्वत्र जिस प्रकार से असहजता और विद्रूप की स्थितियों से गुजरना हो रहा है, वही लेखक को या मुझे व्यंग्य के लिए बाध्य करता है। लेखक भी चूँकि परिवार और समाज के बीच ही रहता है। इसी कारण सीधे-सीधे जब वह अपने परिवेश के साथ संवाद करने और स्थिति को समझने-समझाने में स्वयं को असमर्थ पाता है, तो वह इस विधा के जरिए न केवल वस्तुस्थिति पर प्रहार करता है, वरन स्वयं को तनावमुक्त बनाकर उस परिवेश में नई ऊर्जा के साथ जुड़ जाता है।