Bharatiya Samaj : Rajneetik Sankraman / भारतीय समाज : राजनीतिक संक्रमण
Author
: Hridaynarayan Dikshit
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Category
: Politics
Publication Year
: 2008
ISBN
: 9788171246199
Binding Type
: Hard Bound
Bibliography
: xvi + 144 Pages, Size : 22.5 x 14.5 Cm.

MRP ₹ 160

Discount 20%

Offer Price ₹ 128

दीक्षितजी के ङ्क्षचतन की प्रकृति को उनकी इस पुस्तक 'भारतीय समाज : राजनीतिक संक्रमणÓ में संकलित 48 निबन्धों में देखा जा सकता है। ये लेख राजनीति, संविधान, आरक्षण, राष्ट्रीय अस्मिता, भाषा, श्रमिक समस्या, जल संकट, खेती और किसानों की समस्या, पुलिस, यौन शिक्षा और लोकतंत्र आदि पर केन्द्रित हैं और लेखक के दो-टूक विचारों पर प्रकाश डालते हैं। आर?िभक तीन लेख राजनीति पर ही हैं और राजनीतिक विसंगतियों तथा विद्रूपताओं को रेखांकित करते हैं। इन विसंगतियों के बावजूद लेखक आशान्वित है कि देश में एक ऐसी संस्कृतिकपरक व्यवस्था लोगू होगी जिसमें प्राचीन भारत की तरह जनता की ताकत सर्वोपरि होगी। ''भारत अजन्मा है। भारत सिर्फ एक राज्य या देश ही नहीं है। देश दृश्यमान सत्ता है और राज्य विधिक सत्ता, लेकिन भारत देश और राज्य से परे एक गहन सांस्कृतिक सत्ता भी है। भारत सिर्फ एक भूखण्ड नहीं स?पूर्ण जीवन दर्शन है।ÓÓ लगभग सभी सामयिक विषयों पर विद्वान लेखक ने गहराई और बेबाकी से विचार किया है और कई ऐसे विचार बिन्दु छोड़े हैं जो ज्वलंत तो हैं ही विचारणीय भी हैं। इन पर खुलकर बहस होनी चाहिए।