Kadambari : Mahashveta Vrittant (Mahakavi Banabhattavirchit) / कादम्बरी : महाश्वेतावृत्तान्त (महाकवि बाणभट्टï विरचित)
Author
: Shri Vishwambharnath Tripathi
Language
: Hindi
Book Type
: Text Book
Publication Year
: 2006
ISBN
: 817124453X
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: xxviii + 200 Pages, Size : Crown i.e. 17.5 x 12 Cm

MRP ₹ 40

Discount 10%

Offer Price ₹ 36

कादम्बरी का कथानक बृहत्कथा से लिया गया है। बृहत्कथा प्रेमकहानियों और सामान्य जीवन की कहानियों का अक्षय भंडार होने के कारण संस्कृत के नाटककारों, कथाकारों, कवियोंं के लिए प्रमुक स्रोत बनी रही। इसी आधार पर कुछ लोग कादम्बरी को स्वच्छन्द (रोमांस) प्रेम-काव्य भी मानते हैं। तात्त्विक दृष्टि से देखने पर महाकाव्य के शिल्पविदान और कादम्बरी के शिल्पविधान में अन्तर केवल इतना ही है कि जहाँ महाकाव्य में प्रख्यात नायक-नायिका के ही इतिवृत्त को आधार बनाना आवश्यक है, वहाँ कथा के लिए उत्पाद्य वस्तु ही आधार बनती है, पर अन्य सभी बातों में महाकावव्य और नाटकों की-सी योजना कादम्बरी में है—कादम्बरी में भी दो कहानियाँ है और उन दोनों के इसीलिए पृथक् नायक-नायिका—एक मुख्य कहानी , दूसरी सहायक कहानी।