Urdu Ke Pratinidhi Shayar Aur Unaki Shayari / उर्दू के प्रतिनिधि शायर और उनकी शायरी
Author
: Vashistha Anoop
Language
: Hindi
Book Type
: Reference Book
Category
: Hindi Poetical Works / Ghazal etc.
Publication Year
: 2013
ISBN
: 9788171249534
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: viii +192 Pages; Size : Demy i.e. 22.5 x 14.5 Cm.

MRP ₹ 350

Discount 20%

Offer Price ₹ 280

भाषा और साहित्य के क्षेत्र में 'उर्दूÓ शब्द भले ही लगभग दो सौ साल पहले प्रयुक्त हुआ हो, उर्दू शायरी का$फी पहले से रे$?ता, दकनी और हिन्दी के नाम से रची जा रही थी। उर्दू शायरी का इतिहास अत्यन्त गौरवशाली और रोचक रहा है। उर्दू ज़बान और उर्दू शायरी को निखारने-सँवारने में हिन्दुओं और मुसलमानों दोनों का हाथ रहा है। उर्दू कविता ने हमारे मस्तिष्क, चरित्र और हमारे विचारों को रचने और सँवारने तथा संकीर्णताओं को मिटाने, जीवन के प्रति आकर्षण पैदा करने और मनुष्य को संवेदनशील बनाने में रचनात्मक भूमिका निभाई है। उर्दू कविता की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि उसने प्रेम को सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण स्थान दिया है। यह प्रवृत्ति हिन्दी के सू$फी सन्तों और भक्त कवियों में भी भरपूर दिखाई पड़ती है। वर्णन की रवानी, अन्दाज़े-बयाँ और विषय-वस्तु के अनुकूल सटीक शब्दों के चयन से उर्दू कविता में अद्भुत जादुई असर पैदा होता है। प्रो० वशिष्ठ अनूप हिन्दी $गज़ल व गीत के एक चॢचत रचनाकार और स्थापित समालोचक तो हैं ही, वे उर्दू शायरी, उसके शास्त्र और उसके इतिहास के भी मर्मज्ञ व अधिकारी विद्वान हैं। आपने उर्दू शायरी के ल?बे और समृद्ध इतिहास से अ_ïारह महान शायरों—वली दकनी, मीर, नज़ीर, ज़$फर, $गालिब, ज़ौ$क, दा$ग, इ$कबाल, जिगर, $िफरा$क, $फैज़, म$खदूम और साहिर आदि की प्रतिनिधि शायरी और उनका साहित्यिक मूल्यांकन प्रस्तुत कर एक श्रेष्ठ, आवश्यक और सराहनीय कार्य किया है। उर्दू कविता के हिन्दी पाठकों के लिए यह पुस्तक एक बेशकीमती सौगात है।