Ganesh Chautha (Ganesh Chautha) / गणेश चौथ (गणेश चौथ)
Author
: Dr. Suryakant Tripathi
Language
: Hindi
Book Type
: Reference Book
Publication Year
: 2015
ISBN
: 9789351461173
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: xx + 124Pages; Append; Size : Demy i.e. 21.5 x 14.

MRP ₹ 120

Discount 15%

Offer Price ₹ 102

दैनिक जागरण में नौकरी करते हुए एक रिपोर्टर की आँख से मैंने बनारस देखा और यह जानने का प्रयास किया कि वह क्या है जो काशी को इतना गहरा और व्यापक बनाता है। इस पुस्तक में इतिहास बताने का मेरा प्रयास नहीं है क्योंकि वह कई महत्त्वपूर्ण ग्रन्थों में उपलब्ध है। मैंने प्रयास किया है कि इतिहास और पर?परा के मेल से सृजित अनूठेपन को समझने का। मैंने छोटे-छोटे लेखों से नई पीढ़ी को बताना चाहा है कि लोग टिकट लेकर धरोहरें देखते हैं। तुम भाग्यशाली हो जो धरोहरों में जी रहे हो, धरोहरों को जी रहे हो कि इन्हीं समृद्ध पर?पराओं ने गढ़ा है तु?हें। भारतीय संस्कृति और मेधा का यह अप्रतिम लोक काशी नई पीढ़ी की प्रेरणा बने, इतनी ही इच्छा है। पुस्तक तीन खण्डों में है। शहर को जैसे देखा, काशी खण्ड में उसे वैसा ही बताने की कोशिश है। दूसरा खण्ड काशी प्रभाव है जिसमें वे लेख हैं जो यहाँ रहते हुए लिखे। तीसरा खण्ड काशी पूर्व है। इसमें कुल तीन लेख हैं—बनारस आने से पहले के। उद्देश्य है काशीवासियों के लिए यह किताब स्मृति यात्रा हो और जो काशी में नहीं रहते, उनके लिए सकारात्मक ऊर्जा के इस नगर को समझने का माध्यम बने यह पुस्तक। — आशुतोष शुक्ल सहायक स?पादक : दैनिक जागरण, उत्तर प्रदेश