Lalita (Translation of Tamil Novel 'CINEHIDI') / ललिता (तमिल के 'सिनेहिदीÓ उपन्यास का रूपांतर)
Author
: Shri Akhilan
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Publication Year
: 1983
ISBN
: 9VPLALITAH
Binding Type
: Hard Bound
Bibliography
: viii + 112 Pages, Size : Crown i.e. 18.5 x 13 Cm.

MRP ₹ 25

Discount 10%

Offer Price ₹ 23

'ललिताÓ अखिलन् जी की नितान्त अभिनव कृति है। विषय-वस्तु, कथन शैली, चरित्र निर्माण, सूक्ष्मानुभूति-चित्रण, कथा-धारा का ध्वन्यात्मक उपन्यसन, कार्यों का व्यंग्यात्मक शैली में रक्षण और विकास आदि अनेक दृष्टियों से यह उपन्यास अपनी अभिनवता का परिचय देता है। उपन्यास क्षेत्र में उत्तम पुरुष की कथन शैली लेखक की सामथ्र्य तो सूचित करती ही है, आख्यायिका की कल्पना पर यथार्थता की मुहर लगा देती है। स्वयं नायक द्वारा कथित होने के कारण यहाँ अघटित घटना घटित के रूप में पाठक के समक्ष उपस्थित होती है। आदर्श कल्पना को रूपायित करने के लिए लेखक कहीं पृथग्यत्नलग्न दिखाई नहीं पड़ता। यह सहजता ही अर्थात् कृत्रिमता का अभाव ही उपन्यास की जीवन्तता को आद्यन्त सुरक्षित रखे हुए हैं। जो भी कार्य हुए हैं, हृदय की सहज प्रेरणा से हुए हैं, बलपूर्वक कहीं नहीं। यह लघु कृति लेखक की महती शक्ति की निदॢशका है। मनस्तत्व के ऐसे सूक्ष्म पारखी हमारे कथा-जगत् मं विरल है। इसलिए पाठक इसे एक साँस में पढ़ जाएगा और उसे तनिक भी थकान का एहसास नहीं होगा।