Hindi Patrakarita : Bhartendu to Chhayavad era / हिन्दी पत्रकारिता : भारतेन्दुु-पूर्व से छायावादोत्तर-काल तक
Author
: Dhirendra Nath Singh
Language
: Hindi
Book Type
: Reference Book
Publication Year
: 2012
ISBN
: 9788171249046
Binding Type
: Hard Bound
Bibliography
: xii + 116 Pages, Append., Size : Demy i.e. 22.5 x 14.5 Cm.

MRP ₹ 150

Discount 20%

Offer Price ₹ 120

इस पुस्तक में भारतेन्दु-पूर्व से छायावादोत्तर काल तक की पत्रकारिता का प्रामाणिक इतिहास प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया है। किसी भी विधा के इतिहास लेखन के लिए प्रवृत्तियों का अध्ययन, काल-निर्धारण, काल का नामकरण और समीक्षात्मक प्रस्तुति अपेक्षित है। इस मानक पर हिन्दी पत्रकारिता का यह प्रथम प्रामाणिक इतिहास है। हिन्दी पत्रकारिता के 121 वर्षों के इतिहास को छ: कालों में विभाजित किया गया है और युगविशेष की प्रवृत्तियों के अध्ययन के बाद ही इतिहास प्रस्तुत किया गया है। काल-विभाजन से प्रत्येक काल की प्रवृत्तियों और उस अवधि में प्रकाशित पत्रिकाओं के योगदान को सहज रूप से समझा जा सकता है। यह पुस्तक पत्रकारों, सामान्य पाठकों तथा पत्रकारिता के छात्रों को पत्रकारिता की प्रामाणिक जानकारी कराती है। इस पुस्तक में पत्रिकाओं का प्रामाणिक परिचय, उनका सम्पूर्ण इतिहास प्रस्तुत करने का प्रयास किया गया है। पुस्तक में पुराने समाचार पत्रों के मुख पृष्ठों के प्रकाशन से ग्रन्थ की उपयोगिता और भी बढ़ गयी है।