Aalochak Ka Dayitwa / आलोचक का दायित्व
Author
: Ramchandra Tiwari
Language
: Hindi
Book Type
: Reference Book
Publication Year
: 2005
ISBN
: 8171244467
Binding Type
: Hard Bound
Bibliography
: viii + 200 Pages, Size : Demy i.e. 22.5 x 14.5 Cm.

MRP ₹ 250

Discount 20%

Offer Price ₹ 200

आधुनिक साहित्य के सन्दर्भ में आलोचक का दायित्व का निर्धारण एक अत्यन्त विवादास्पद एवं जटिल प्रश्न है। कृति के सामान्य गुण-दोष, कथन से लेकर उसकी आशंसा, व्याख्या, मूल्यांकन, महत्त्व-प्रतिपादन, वस्तुरूप-विश्लेषण सौन्दर्य-निदर्शन, संवेद्य तत्त्व-विवेचन तथा प्राभावाभिव्यंजन जैसे अनेक कार्यो की अपेक्षा आज आलोचक से की जाने लगी है। प्रस्तुत कृति में आधुनिक हिन्दी-आलोचना की परिधि में आने वाले विविध सैद्धान्तिक एवं व्यावहारिक प्रश्नों के विश्लेषण-क्रम में आलोचक के गहन दायित्त्व के आकलन की चेष्टïा की गई है। लेखक ने आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी, आचार्य रामचन्द्र शुक्ल, आचार्य नन्ददुलारे वाजपेयी, आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी, डॉ० नगेन्द्र, डॉ० रामविलास शर्मा और डॉ० नामवर ङ्क्षसह जैसे प्रख्यात आलोचकों की सैद्धान्तिक मान्यताओं एवं व्यावहारिक समीक्षा-पद्धतियों के विश्लेषण द्वारा यह स्पष्टï करने की चेष्टïा की है कि इन आलोचकों ने किस सीमा तक और किस रूप में एक आदर्श आलोचक के दायित्व का निर्वाह किया है।