Lalit Nibandh / ललित निबन्ध
Author
: Kendriya Hindi Sansthan, Agra
Language
: Hindi
Book Type
: Text Book
Publication Year
: 2015
ISBN
: 9788171249039
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: viii + 184 Pages, Size : Crown i.e. 17.5 x 12 Cm.

MRP ₹ 45

Discount 10%

Offer Price ₹ 41

OUT OF STOCK

इस संग्रह में हिन्दी के उत्तम निबन्धकारों की रचनाएँ संगृहीत हैं। प्राचीन तथा नवीन दोनों युगों के प्रतिनिधि लेखकों की सरस रचनाओं का चयन किया गया है। निबन्ध के विकास की रूपरेखाएँ बताने के लिए तथा संकलन में संगृहीत रचनाओं के लेखकों के साहित्य का संक्षिप्त रूप में परिचय देने के लिए एक 'भूमिकाÓ भी जोड़ी गयी है। क्रम : 1. इन्कमटैक्स (प्रतापनारायण मिश्र), 2. लार्डमिण्टो का स्वागत (बालमुकुन्द गुप्त), 3. मारेसि मोङ्क्षह कुठाऊँ (चन्द्रधर शर्मा गुलेरी), 4. एक जमाना था : समय की सीढिय़ों पर (माखनलाल चतुर्वेदी), 5. अवशेष (डॉ० रघुवीर ङ्क्षसह), 6. क्या लिखूँ? (पदुमलाल पुन्नालाल बख्शी), 7. डुकरिया पुराण (गुलाब राय), 8. ये सुइयाँ (भदन्त आनन्द कौसल्यायन), 9. आपने मेरी रचना पढ़ी? (डॉ० हजारीप्रसाद द्विवेदी), 10. रामा (महादेवी वर्मा), 11. बाजार दर्शन (जैनेन्द्र कुमार), 12. गिलहरी (कुट्टिïचातन), 13. सपने मैंने भी देखे हैं (अज्ञेय), 14. मधुमक्खियों से सबक (धर्मवीर भारती), 15. कवि, तेरा भोर आ गया (कुबेरनाथ राय), 16. नये वर्ष के शुभ संकल्प (डॉ० रामविलास शर्मा), 17. हल्दी-दूब और दधि-अच्छत (विद्यानिवास मिश्र), 18. रजिया (रामवृक्ष बेनीपुरी), 19. धन्यवाद (सियारामशरण गुप्त), 20. रद्दी-टोकरी (इन्द्रनाथ मदान), 21. मकान (प्रभाकर माचवे), 22. बया और बन्दर की कहानी : एक रिसर्च स्कॉलर की जबानी (श्रीलाल शुक्ल), 23. आँगन में बैंगन (हरिशंकर परसाई), 24. मेघदूत की पुस्तक-समीक्षा (शरद जोशी), 25. बाघ से भिड़न्त (श्रीराम शर्मा)।