Shri Shri Siddhimata / श्री श्री सिद्धिमाता (कायाभेदी ब्रह््मवाणी तथा विवरण सहित)
Author
: Rajbala Devi
Language
: Hindi
Book Type
: General Book
Publication Year
: 2012
ISBN
: 9788189498559
Binding Type
: Paper Back
Bibliography
: xxviii + 112 Pages, Size : Demy i.e. 21.5 x 13.5 Cm.

MRP ₹ 90

Discount 15%

Offer Price ₹ 77

'श्री श्री सिद्धिमाता' धारावाहिक रूप से लिखा गया जीवनचरित नहीं है। माँ के निकट उनका जीवनचरित पूर्वापर क्रम से धारावाहिक रूप में सुनने का सौभाग्य और अवसर मुझे कभी नहीं मिला। उनके साथ वार्तालाप के सिलसिले में विभिन्न समयों में, जब जितना जान सकी तभी उसे भरसक भलीभाँति लिपिबद्ध करने का मैंने प्रयत्न किया। इस संग्रह में विभिन्न विषयों तथा विभिन्न कालों के यथार्थ क्रम का सदा ध्यान नहींं रखा गया। पीछे मैंने सब घटनाों को क्रम से सजाने की चेष्टा की। माँ के श्रीमुख से मैंने जिन महात्माओं का विवरण सुना था, उनका वर्णन यथाशक्ति भलीभाँति किया है। माँ की काया का भेदन कर निकले हुए úकार, मूर्ति, बीज, मन्त्र, वाणी, अक्षर आदि जो कुछ इस ग्रन्थ में उल्लिखित हुए हैं वे सभी मेरी अपनी आँखों से देखे हैं, उनमें कुछ भी अतिरंजन नहीं है। श्री श्री सिद्धिमाता—आत्मकथा ओ जीवनी' के नाम से श्रीयुक्ता तरुबाला देवी ने जो ग्रन्थ पहले प्रकाशित किया है। उसमें माँ की जो कायाभेदी वाणी प्रकाशित हुई है वह केवल श्रीमान् प्रभात लिखित कायाभेदी वाणी की ही प्रतिलिपि है। वर्तमान पुस्तक में भी संशोधित रूप मेंं यह वाणी दी गई है एवं उसके साथ-साथ मन्त्र, बीज, ध्यान आदि भी दिये गये हैं, जो प्रभात द्वारा लिखित वाणी में पहले प्रकाशित नहींं किये गये हैं।